A private lyric by Shailendra ji “तू ज़िन्दा है तो ज़िन्दगी की जीत में यकीन कर”

तू ज़िन्दा है तो ज़िन्दगी की जीत में यकीन कर, अगर कहीं है तो स्वर्ग तो उतार ला ज़मीन पर! सुबह औ’ शाम के रंगे हुए गगन… Read more “A private lyric by Shailendra ji “तू ज़िन्दा है तो ज़िन्दगी की जीत में यकीन कर””